Monday, June 29, 2009

श्रद्धांजली

तीन दिनों से लगातार टी .वि पर माइकल जेक्सन की विवादास्पद म्रत्यु की की खबरे, साथ ही श्रद्धांजली के कार्यक्रम देख रहे है यहाँ बेंगलोर में एक बहुत बड़ा शिवजी का मन्दिर है आज सोमवार था तो दर्शन करने चले गये जैसे ही ओटो से उतरे मन्दिर के पास की दुकान के बाहर एक लंबा माइकल जेक्सन का का पोस्टर लगा था और उसपोस्टर पर एक बड़ा सा फूलो का हार डला था हार थोड़ा सा बासी हो गया थाशायद कल का हो?
बहरहाल श्रद्धांजली का एक यह भी रूप देखने को मिला |

5 टिप्पणियाँ:

अमिताभ श्रीवास्तव said...

me samjhata hoo, shrdhanjali kisi bhi andaaz me di jaa sakti he aour jise di jaa rahi he vo samanya insaan to katai nahi tha/
jiske pichhe laakho log deevano ki tarah paagal ho, use ham shayad alag alaga tariko se shradhanjali dekar usaki mahanta ko darsha sakte he/
kalaakaar mahaan hi hota he/ MJ ko kam usaki kalaa ko jyada pasand karte the log/

Priya said...

Aisa hi hota hain shobha ji..... jab wo zinda they to yahi media unhe criticize karta tha.... aaj pure din news dikha raha hain

राज भाटिय़ा said...

दुनिया मै कमी नही......

abhivyakti said...

जैसे भी हो माइकल ने एक श्रेष्ठ प्रतिमान स्थापित किया,निजी जिन्दगी समीक्षा से बाहर रहे तो ठीक...
माइकल को संगीत के सन्दर्भों में याद करना चाहिए...

दिगम्बर नासवा said...

mout तो mout ही है और hamaara, bhaartiyon का maatha तो apne aap ही jhuk जाता है इस mritu ke सत्य को jaankar....... फिर माइकल जेक्सन तो mahaan kalaakaar थे............. उनकी kalaa से किसी को भी gurez नहीं होगा..........